मोहब्बत का खेल

बड़ा ही दिलकश है… मोहब्बत का खेल
सब खेलों me

जो हारा…वो फिर नहीं खेला…

जो जीता… उसने भी तौबा कर ली…